Home Research आयुर्वेद की सलाह- खाली पेट करें घी का सेवन,

आयुर्वेद की सलाह- खाली पेट करें घी का सेवन,

337
0

बेहतर स्वास्थ्य के लिए आहार में जिन चीजों का शामिल करने पर विशेष जोर दिया जाता रहा है, डेयरी उत्पाद उनमें से एक हैं। इसमें भी दैनिक रूप से घी का सेवन करना आपके लिए विशेष लाभदायक हो सकता है। आयुर्वेद से लेकर मेडिकल साइंस तक, विशेषज्ञों ने घी को बेहद पौष्टिक आहार के रूप में वर्गीकृत किया है। घी, भारतीय सुपरफूड माना जाता है जो न केवल अपने विशिष्ट स्वाद बल्कि तमाम स्वास्थ्य लाभ के लिए भी काफी पसंदीदा रहा है। पर क्या आप जानते हैं कि घी का सेवन खाली पेट करना आपके लिए और भी फायदेमंद हो सकता है?

आयुर्वेद में घी को बेहद पौष्टिक आहार के रूप में बताया गया है। खाली पेट इसका सेवन करने से इसके और भी कई फायदे मिलते हैं। अपने दिन की शुरुआत घी से करने से आपका पाचन तंत्र साफ रहता है। कब्ज और पेट की अन्य कई समस्याओं को ठीक करने के लिए भी इसे बहुत ही प्रभावी माना जाता है। घी ओमेगा -3 फैटी एसिड का एक समृद्ध स्रोत है जो एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। आइए रोजाना खाली पेट घी के सेवन से सेहत को होने वाले फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

घी के हैं कई स्वास्थ्य लाभ,
आयुर्वेद विशेषज्ञों के मुताबिक गाय का घी एक प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में जाना जाता है जो फ्री रेडिकल्स से शरीर की रक्षा करने के साथ ऑक्सिडेशन प्रक्रिया को रोकता है। इस प्रकार यह हमारे मस्कुलोस्केलेटल सिस्टम में अपक्षयी परिवर्तनों को रोकने के साथ समय से पहले बुढ़ापे और अल्जाइमर रोग के जोखिम को कम करने में मददगार हो सकता है। खाली पेट इसका सेवन करना आपके लिए विशेष लाभकारी साबित हो सकता है।

खाली पेट घी के सेवन के लाभ,

-आयुर्वेद में घी के सेवन के तमाम स्वास्थ्य लाभ का जिक्र मिलता है। इसका खाली पेट सेवन करने से यह लाभ कई गुना तक बढ़ जाता है।
-यह आपके पाचन तंत्र को साफ करने में मदद करता है।
-खाली पेट घी खाने से त्वचा में निखार पाने में मदद मिलती है।
-यह नियमित मल त्याग को ठीक करने में मदद करता है।
-खाली पेट घी खाने से यह भूख को लंबे समय तक नियंत्रित करने में मदद करता है।
-यह अनुकूल एंजाइमों के साथ आपकी आंत के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करता है।
-हड्डियों की शक्ति और शारीरिक शक्ति को बढ़ाने में भी घी का सेवन फायदेमंद माना जाता है।

शारीरिक शक्ति को देता है बूस्ट,

घी को वर्षों से शक्तिवर्धक आहार के रूप में जाना जाता है। घी में स्वस्थ संतृप्त वसा, फैटी एसिड, विटामिन (ए, डी, ई, के 2) और एंटीऑक्सिडेंट मौजूद होते हैं। खाली पेट इसका नियमित सेवन ऊर्जा के स्तर को बढ़ाता है और दिनभर काम करने की शक्ति प्रदान करता है। घरेलू उपचार के तौर पर शारीरिक कमजोरी वाले लोगों को घी के सेवन की सलाह दी जाती रही है।

Previous articleअबू धाबी में पीएम मोदी से गर्मजोशी से मिले UAE के राष्ट्रपति
Next articleब्रिक्स और विरोधाभास,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here