Home Gau Samachar गौ संरक्षण को लेकर जिला प्रशासन बेहद सख्त

गौ संरक्षण को लेकर जिला प्रशासन बेहद सख्त

गौ संरक्षण केन्द्र की आशिक भूमि गाटा सं.1354 रकबा लगभग 0.102080 में कुछ लोगों के द्वारा दबंगई व बलपूर्वक जेसीबी मशीन से गौसंरक्षण केन्द्र की कच्ची बाउण्ड्री तोड़कर कब्जा कर लिया गया है। एसडीएम अकबरपुर ने बताया की मामले की जानकारी अभी नहीं है। अगर ऐसी कोई शिकायत करी गई है तो जानकारी कर मामले की जांच करवाई जाएगी।

385
0

कानपुर देहात: कानपुर देहात में गौ संरक्षण केन्द्र के निर्माण कराने में जिला प्रशासन जुटा हुआ है। वहीं कुछ लोगों ने गौ संरक्षण केन्द्र की जमीन पर ही कब्जा कर लिया है। जिसको लेकर ग्रामीणों के द्वारा जिलाधिकारी से लेकर मुख्यमंत्री तक लिखित तौर पर शिकायत की गई है। गौ संरक्षण केन्द्र की जमीन को सुरक्षित करने की मांग की गई है।

कानपुर देहात की तहसील अकबरपुर के ग्राम किशरवल के निवासी पूर्व ग्राम प्रधान सालिगराम राम ने गांव के कुछ लोगों पर लेखपाल से सांठगांठ कर गौ संरक्षण केन्द्र की कुछ जमीन पर कब्जा करने का आरोप लगाते हुए बताया कि ग्राम किशरवल के अन्तर्गत सरकार द्वारा विगत वर्षों में गाटा सं.1354 रकबा 7.0000 व गाटा सं.1379 रकबा 1.0000 कुल रकबा 18.0000 ग्राम समाज की भूमि सरकार द्वारा अधिग्रहण करके सरकार ने गौ संरक्षण केन्द्र का निर्माण कराया था।

जो कि इस वक्त भी सरकार की ओर से संचालित है। गौ संरक्षण केन्द्र की आशिक भूमि गाटा सं.1354 रकबा लगभग 0.102080 में कुछ लोगों के द्वारा दबंगई व बलपूर्वक जेसीबी मशीन से गौसंरक्षण केन्द्र की कच्ची बाउण्ड्री तोड़कर कब्जा कर लिया गया है। एसडीएम अकबरपुर ने बताया की मामले की जानकारी अभी नहीं है। अगर ऐसी कोई शिकायत करी गई है तो जानकारी कर मामले की जांच करवाई जाएगी।

Previous articleकोंग्रेसी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सरकार ने दिया 1.56 करोड़ का अनुदान पंचायत समिति स्तर पर खोली जा रही हैं नंदीशालाएं
Next articleताज महल मंदिर है या मकबरा ? अब ये 20 दरवाजे खोलेंगे कई बड़े रहस्य

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here