Home Entertainment भारत की आज़ादी के 75 वे अमृत महोत्सव पर गायिका मधुश्री के...

भारत की आज़ादी के 75 वे अमृत महोत्सव पर गायिका मधुश्री के स्वर में ‘वन्देमातरम’ गीत

627
0

मुम्बई। अब एक बार फिर वंदे मातरम की गूंज से झूमेगा इंडिया सारा। वंदे मातरम के गीत से रगों में भर जाएगा देश भक्ति का जज्बा। गायिका मधुश्री, भारत की आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के मौके पर अपनी सुरीली आवाज में लेकर आ गयी हैं भारत वासियों के लिये बेहद खूबसूरत नजराना। एक ऐसा गाना जो देश की पहचान है।
हाल ही में वंदे मातरम गाने को उन्होंने अपनी मधुर आवाज में रिकॉर्ड किया और अब गाना पूरा बनकर सामने आ गया है तो मधुश्री बेहद खुश हैं और कहती हैं,”मैं भारत से प्यार करती हूं और बचपन से वंदे मातरम गीत, मेरे दिमाग में सदैव एक मीठी धुन बनकर बजता रहा है, जब भी मैं ये गाना सुनती थी तो मेरे रोंगटे खड़े हो जाते थे। लता जी का गाया हुआ ‘वंदे मातरम’ गीत मुझे हमेशा से प्रेरणा देते रहा हैं और इस साल मैंने फैसला किया कि मैं ये गाना रिकॉर्ड करके देशवासियों को और भारत माँ को ये गाना समर्पित करूंगी।
मधुश्री आगे कहती हैं कि मैंने रॉबी बादल से एक अलग धुन बनाने के लिए कहा और उन्होंने हूबहू वैसा ही किया। मैंने पूरी श्रद्धा और कृतज्ञता के साथ इस गाने को गाया है। भारत माता ने हमें बहुत कुछ दिया है। मैं चाहूंगी कि यह गीत हमारे देश और हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को इस अवसर पर एक श्रद्धांजलि हो, जहाँ हमारा देश आजादी के 75 वें वर्ष अमृत महोत्सव मना रहा है। यह गीत हमारे तिरंगे की शक्ति को संगीत के माध्यम से हर घर तक पहुंचाने की मेरी एक कोशिश है। संगीत की कोई सीमा नहीं होती और वंदे मातरम गाने के माध्यम से मैं चाहती हूं कि हमारा राष्ट्रीय ध्वज हर भारतीय के घर और दिल में और दुनिया भर में सदैव गर्व से लहराता रहे।
इस गीत को संगीत से सजाया है रॉबी बादल ने, लिखा है बंकिम चंद्रा चट्टोपाध्याय और अर्रेंज किया है सुदीप घोष ने।

Previous articleजब भगवान् कृष्ण ने ख़ुद थियेटर में बैठ कर देखी फिल्म
Next articleछत्तीसगढ़ – क्रूरता की हदें पार, गाय का मुँह बाँध लाठियों से पीटा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here