Home News प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान संगठन और झारखंड इंटलेक्चुअल फोरम

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान संगठन और झारखंड इंटलेक्चुअल फोरम

1280
0

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान संगठन और झारखंड इंटलेक्चुअल फोरम द्वारा कंस्टिट्युशन क्लब ऑफ इंडिया में आहूत झारखंड ग्लोबल कन्वेंशन के एक गरिमापूर्ण आयोजन में जनसेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करनेवाले विभिन्न व्यक्तियों का सम्मान किया गया। सम्मानमूर्तियों में झारखंड विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष श्री सी पी सिंह, झारखंड पर पांच पुस्तकें लिखने वाले श्री शैलेंद्र महतो, पूर्व सांसद वृजमोहन राम, डॉ पंकज सोनी, डॉ नेहा सिन्हा, आई ए एस श्री रचित राज, श्री दिनेश प्रसाद, श्री सुखदेव यादव, श्री अभिषेक सहाय,झारखंड परिवर्तन संघ के अध्यक्ष श्री अरविंद आर्या श्रीमती कीर्ति चौधरी ,डॉ विकास लाल,श्री मोहन प्रसाद साव, श्री सुरेन्द्र कुमार, विश्वविख्यात रॉक पेंटर श्री सुबोध नेमलेकर एवं कैंसरपीड़ितों की सेवा में रत राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता राजेश झा के नाम शामिल हैं।

रेल मंत्रालय में पब्लिक सर्विस कमेटी के अध्यक्ष श्री रमेशचंद्र रत्न ने कहा कि राष्ट्र के निर्माण में रेलवे का महत्वपूर्ण योगदान है और इसने प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत अभियान की भारी सफलता के लिए अपनी भूमिका को विस्तार दिया है। इससे झारखंड को भी बहुत लाभ मिला और मिल रहा है। इससे राज्य की उन्नति के नए -नए आयाम खुल रहे हैं। उन्होंने बतौर अध्यक्ष अपने वर्तमान दूसरे कार्यकाल में रेलवे द्वारा जन सेवाओं की सुलभता का विस्तार से वर्णन किया।

इस अवसर पर राज्यसभा सांसद एवं भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद जफर इस्लाम ने राष्ट्र की उन्नति में झारखंड के योगदानों की चर्चा की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने देश में उद्योगों के लिए अनुकूल माहौल बनाया एवं विभिन्न योजनाओं के माध्यम से जनसामान्य की भी आर्थिक उन्नति का मार्ग प्रशस्त किया। वैश्विक मानचित्र पर भारत के मजबूत राष्ट्र के रूप में उदित होने को लेकर उन्होंने स्टार्टअप्स, किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री रोजगार ऋण सुविधाओं के विस्तार पर प्रकाश डाला।

झारखंड विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष श्री सी पी सिंह ने इस आयोजन और इसके संदेशों को गाँवों -कस्बों तक पहुँचाने की बात कही। वे स्वयं को ‘लाइव टाइम एचीवमेंट अवार्ड ‘ दिये जाने पर धन्यवाद ज्ञापित कर रहे थे।

इस सम्मान समारोह के संयोजक श्री प्रेम कुमार ने बताया कि झारखंड के विकास की आवश्यक शर्त झारखंड में आमूलचूल बदलाव है। युवाओं की विपुल शक्ति को राष्ट्रनिर्माण में लगाने, स्टार्टअप – उद्यमिता,रोजगार -सृजन तथा स्वास्थ्य एवं शिक्षा की सुलभता के द्वारा राज्य की समृद्धि से वहाँ के लोगों के जीवन स्तर में उन्नति लाने के लिए प्रतिभाओं का सम्मान राष्ट्रीय राजधानी में किये जाने का सुप्रभाव प्रांत में दिखेगा ।सामाजिक समरसता एवं समन्वय से ही झारखंड में बदलाव की बयार बहेगी।

आत्मनिर्भर भारत अभियान संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ मुकेश शर्मा ने कहा कि समुन्नत झारखंड की परिकल्पना को साकार करने के लिए वहाँ की प्रतिभाओं को अपनी माटी, अपने लोगों के लिए काम करने हेतु प्रोत्साहित करना होगा। संगठन के कार्यकारी अध्यक्षश्री रामकुमार पाल ने कहा कि इस मंच का लक्ष्य झारखंड प्रांत की राष्ट्रीय विकास में भागीदारी को बढ़ाने का वातावरण सृजित करना भी है।

इस आयोजन में लोकसभा के सचिव श्री मनीष बघेल , वैज्ञानिक जियालाल जैसवार, रक्षा मंत्रालय के अवर सचिव श्री सुनील पाल, राजस्व अवर सचिव श्री सुनील कुमार , दिल्ली के कमीशनर श्री राजेश पाल आदि गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Previous articleमुंबई मे कितनी गौशालाएँ हैं?
Next articleकंगना रनौत की फिल्म ‘धाकड़’ का ट्रेलर जारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here