Home Gau Samachar गौ माता को ऐसे करें प्रसन्न, चमक उठेगा आपका सोया हुआ भाग्य

गौ माता को ऐसे करें प्रसन्न, चमक उठेगा आपका सोया हुआ भाग्य

36
0

गौ माता को ऐसे करें प्रसन्न, चमक उठेगा आपका सोया हुआ भाग्य

हिंदू धर्म में हाथी से लेकर गाय और अन्य कई पशु-पक्षियों को पूजनीय माना गया है। वहीं हिंदू धर्म में पहली रोटी गाय के लिए निकलने का विधान है। माना जाता है कि जो व्यक्ति प्रतिदिन गाय को रोटी या फिर चारा खिलाता है उसे जीवन में दरिद्रता का सामना नहीं करना पड़ता। ऐसे में आइए जानते हैं गौ माता की कृपा प्राप्ति के उपाय।

हिंदू धर्म में ऐसे कई पशु-पक्षी माने गए हैं, जिन्हें शुभता के प्रतीक के रूप में देखा जाता है। वहीं, सनातन धर्म में गाय का विशेष महत्व माना जाता है और इस गौ माता कहकर संबोधित किया जाता है। साथ ही गाय में सभी देवी-देवताओं का भी वास माना जाता है। ऐसे में हम आज आपको बताने जा रहे हैं, कि आप किस प्रकार गाय माता की कृपा प्राप्त कर सकते हैं, जिससे आपको जीवन में सुख-समृद्धि बनी रहेगी।

मिलेगा कई दोष से छुटकारा

माना जाता है कि यदि आप रोजाना गाय को गुड़ के साथ रोटी खिलाते हैं, तो इससे आपको कुंडली में मौजूद कई प्रकार के दोष से छुटकारा मिल सकता है। जिससे आपके बिगड़े हुए काम बनने लगते हैं। वहीं यह भी माना जाता है कि गाय के गले और पीठ को सहलाने वह प्रसन्न होती है, जिससे व्यक्ति को भी इसका लाभ मिलता है

स्वयं भोजन करने से पहले गाय को रोटी खिलाएं और गौ माता के पैर छूकर उनका आशीर्वाद लें। ऐसा करने से व्यक्ति को आर्थिक समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है। इसके साथ ही गाय के रोजा हरा चारा खिलाने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। वहीं, बुध ग्रह की अशुभता से बचने के लिए भी गाय को हरा चारा खिलाना अच्छा माना जाता है।

मंदिर में रखें ये तस्वीर

देवी-देवताओं की विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए मंदिर में गाय की भी तस्वीर रख सकते हैं। साथ ही रोजाना गौ माता की पूजा करें। ऐसा करने से आपके जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार बना रहता है। इसके साथ ही गौ माता की सेवा करना भी बहुत ही पुण्यकारी माना गया है।

 

Previous articleअक्षय तृतीया पर रिलीज़ होगी राजकुमार राव की फिल्म “श्रीकांत – आ रहा है सबकी आंखें खोलने”
Next article5 अप्रैल को रिलीज होगी मेरी मां कर्मा, 25 साल की सिनेमैटोग्राफर ने शूट की फिल्म; सतलज इंदौरी ने लिखे फिल्म के गाने

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here