Home Recent News नंदलाल क्षितिज के कविता संग्रह ‘कल्पना के पंख’ का विमोचन अभिलाष अवस्थी...

नंदलाल क्षितिज के कविता संग्रह ‘कल्पना के पंख’ का विमोचन अभिलाष अवस्थी के हाथों सम्पन्न

496
0
मुम्बई। वरिष्ठ गीतकार – कवि नंदलाल क्षितिज के कविता संग्रह ‘कल्पना के पंख’ का विमोचन 3 सितम्बर 2022 की शाम मुम्बई प्रेस क्लब में महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी के कार्याध्यक्ष व वरिष्ठ पत्रकार अभिलाष अवस्थी के द्वारा गरिमापूर्ण परिवेश में सम्पन्न हुआ। मुख्य अतिथि के रूप में युवा साहित्यकार पवन तिवारी ने पुस्तक पर अपना मन्तव्य प्रकट करते हुए कहा कि एक अच्छा रचनाकार वही है जो जैसा निजी जीवन में है वैसा ही अपनी रचनाओं में भी दिखाई दे। यह ईमानदारी नंदलाल क्षितिज जी की रचनाओं में स्पष्ट झलकती है। उन्होंने संग्रह की कुछ कविताओं का उदाहरण भी दिया। विशिष्ट अतिथि के रूप में वरिष्ठ साहित्यकार एवं समाजसेवी अलका पांडेय ने क्षितिज को आगे भी इसी तरह की रचना के लिए शुभकामनाएं दी।
इसके साथ ही कानपुर से पधारे वरिष्ठ साहित्यकार और कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में श्रीहरि वाणी ने कहा कि केवल पुस्तकें लिखना महत्वपूर्ण नहीं है, बल्कि खरीदकर पढ़ना भी महत्त्वपूर्ण है। क्षितिज की रचनाओं को पवन तिवारी ने उदाहरण देते हुए सुनाया। अच्छे लेखकों, साहित्यकारों को प्रोत्साहित कीजिये। केवल बातों से कुछ नहीं होगा।
कार्यक्रम के विशेष अतिथि रामप्यारे सिंह रघुवंशी ने अपने मित्र नंदलाल क्षितिज को बधाई दी एवं भविष्य में उनकी नयी कृति को अपनी संस्था के माध्यम से लाने की बात कही। अपने लेखकीय वक्तव्य में क्षितिज ने अपनी पत्नी रीता कन्नौजिया और पुत्र समीर कन्नौजिया का आभार व्यक्त करते हुए अपने परिवार पर एक सुंदर गीत सुनाया। उन्हें अपनी रचना का प्रेरणा स्रोत बताया। कार्यक्रम का उत्तम संचालन वीर रस की श्रेष्ठ कवयित्री डॉ वर्षा सिंह ने की। कार्यक्रम के संयोजन आर के पब्लिकेशन के स्वामी राम कुमार ने इस अवसर पर पवन तिवारी को महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी के कार्याध्यक्ष के हाथों मुम्बई हिंदी अकादमी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर नियुक्ति का पत्र भी सौंपा। कार्यक्रम के अंत में राम कुमार ने सभी अतिथियों एवं आगन्तुकों का आभार प्रकट किया।
 इस कार्यक्रम में, नागपुर से पधारी वरिष्ठ कवयित्री हेमलता मिश्र मावनी, हिंदी सेवी प्रज्वल वागदरी, उदय नारायण सिंह निर्झर, रामस्वरूप साहू, लेखक शिव प्रसाद तिवारी, शायर तरुण तन्हा, वरिष्ठ कवि विनयदीप शर्मा, जवाहर लाल निर्झर, रामप्यारे सिंह रघुवंशी, युवा कवि संदीप चौरसिया, रवि यादव, समीर कन्नौजिया, रीता कन्नैजिया, कविता, हरिदास अड़सुले, राजेश कुमार त्रिपाठी, ओम प्रकाश पांडेय, अनिल राही, ओम प्रकाश सिंह, उमेश कुमार शर्मा, सन्तोष पांडेय, शिव प्रकाश जौनपुरी, अरुण प्रकाश अनुरागी, कुसुम तिवारी, मुम्बई अमरदीप के संपादक उपेंद्र पंडित, परविंदर सिंह, संजय द्विवेदी सहित अनेक रचनाकर व विशेष अतिथियों की उपस्थिति रही।
Previous articleCyrus Mistry Death: साइरस मिस्त्री के पोस्टमार्टम में सामने आई ये बात, परिवार का कोई सदस्य नहीं पहुंचा हॉस्पिटल
Next articleगौ तस्करी – इनामुल के करीबी जेनारुल शेख को सीआईडी ने गिरफ्तार किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here