Home General अखिल भारतीय अग्निशिखा मंच का पुस्तक लोकार्पण के साथ डॉ शिवदत्त शुक्ल...

अखिल भारतीय अग्निशिखा मंच का पुस्तक लोकार्पण के साथ डॉ शिवदत्त शुक्ल स्मृति एवं देवेंद्र पाण्डेय स्मृति सम्मान समारोह संपन्न

239
0

नवी मुंबई। अखिल भारतीय अग्निशिखा मंच की ओर से आयोजित पुस्तक लोकार्पण एवं सम्मान समारोह 22 मार्च 2024 की शाम सानपाड़ा स्थित शिकारा होटल के सभागृह में गरिमापूर्ण ढंग से संपन्न हुआ। समारोह की अध्यक्षता प्रसिद्ध कवि एवं उपन्यासकार पवन तिवारी ने की। मुख्य अतिथि रहे महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी के सदस्य अरविंद राही तथा विशेष अतिथि के रूप में कवयित्री सीमा त्रिवेदी, आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली, आर के पब्लिकेशन के निदेशक रामकुमार त्रिपाठी एवं लघुकथाकार सेवा सदन प्रसाद, नगरसेवक सयाली शिंदे, समाजसेविका उषादत्त, समाजसेवक गोकुलधाम से सुभाष अग्रवाल की उपस्थिति रही।

कार्यक्रम का संचालन अश्वनी पांडेय एवं कुमार जैन ने किया।
कार्यक्रम का आरंभ अनीता मेहरा द्वारा दीप प्रज्वलन के साथ हुआ। इसके पश्चात अलका पांडेय के प्रथम उपन्यास अनुराग का अवसाद का लोकार्पण हुआ।
पुस्तक के संदर्भ में अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में पवन तिवारी ने कहा कि अलका पांडे के उपन्यास की केंद्रीय पात्र एक स्त्री है। जो प्रेम और प्रतिरोध करना दोनों जानती है। एक स्त्री जब तक प्रेम करती है तब तक राधा दिखाई देती है और जब प्रतिरोध करती है तो दुर्गा के स्वरूप में दिखाई देती है। यही इस उपन्यास का मूल है। उपन्यास का कथ्य और उसका शिल्प मोहक है जो पाठक को बांधे रखता है। कथा में आगे क्या होगा इसके लिए उत्सुकता जगाये रखता है। इस उपन्यास में लेखकीय अनुभव और परिपक्वता दिखाई पड़ती है। वर्तमान समय में विवाहेत्तर प्रेम और उसमें निहित विद्रुपताओं का बड़ा ही स्पष्ट रूप इस उपन्यास में दिखाई पड़ता है। इस उपन्यास के लिए अलका पांडेय को अनेक बधाई एवं शुभकामनाएं। कार्यक्रम का दूसरा सत्र डॉ शिवदत्त शुक्ल स्मृति सम्मान एवं देवेंद्र पांडेय स्मृति सम्मान का था। इस वर्ष वरिष्ठ कवि डॉ अरुण प्रकाश अनुरागी एवं वरिष्ठ कवयित्री अलका शरर को डॉ शिवदत्त शुक्ल स्मृति साहित्य भूषण सम्मान प्रदान किया गया। देवेंद्र पांडे स्मृति समाज भूषण सम्मान विकास आर. अग्रवाल को दिया गया।
डॉ शिवदत्त शुक्ल स्मृति साहित्य गौरव सम्मान वरिष्ठ कवि रामस्वरूप साहू, नीरज ठाकुर मदन गोपाल अकिंचन, डॉ मनोज गोयल, राजेंद्र वामन कटकरे, ओम प्रकाश पांडेय, शारदा प्रसाद दुबे एवं विजय भटनागर, अलका गोयल, चम्पा सिंह को प्रदान किया गया। इसके पश्चात अंतिम सत्र में कविता पाठ हुआ। कविता पाठ करने वाले कवियों में अश्विनी पाण्डेय, सत्यभामा सिंह, अन्नपूर्णा गुप्ता, बिट्टू जैन, त्रिलोचन सिंह अरोरा, दिलीप ठक्कर, शोभा ठक्कर, अलका पांडेय, सीमा त्रिवेदी, मंजू गुप्ता, नीलम गुप्ता, डॉ अंजू शर्मा, चंद्रिका व्यास, जे पी सिंह, ओम प्रकाश सिंह प्रमुख रहे। कार्यक्रम के अंत में अलका पांडेय ने सभी अतिथियों एवं आगंतुकों का आभार व्यक्त किया।

Previous articleमंत्री रेखा ने महादेव का पूजन और गौ सेवा कर मनाई होली
Next articleनालासोपारा पश्चिम में ढाई हजार वर्ष पुराने बौद्ध स्तूप के दर्शन के लिए पहुंचे बीएसएस के सैकड़ों लोग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here